तीन पत्ती आष्टा

Publishing time:2021-09-24 10:11:34

स्टेटस विडियो डाउनलोड तीन पत्ती आष्टा ★ yabo official site at www.22bet99.com; easy to remember URL is www.99bet99.com .म्यूचुअल फंडों में निवेश और पारदर्शी होगा, सेबी ने उठाए ये कदम

तीन पत्ती आष्टा

ET Bureau
सेबी ने सोमवार को म्यूचुअल फंड्स में निवेश में पारदर्शिता बढ़ाने के लिए कुछ बड़े ऐलान किए. इससे निवेश पर होने वाला खर्च भी शामिल है. माना जा रहा है कि सेबी के इस कदम से स्कीमों की गलत बिक्री पर अंकुश लगेगा.

सेबी के आदेशानुसार, अब स्कीम से संबंधित सभी खर्च स्कीम से ही चुकाए जाएंगे. इसका भुगतान एसेट मैनैजमेंट कंपनियों द्वारा नहीं किया जाएगा. इसमें कमीशन भी शामिल हैं. सेबी ने पहले दिए जाने वाले 1 फीसदी कमीशन को भी खत्म कर दिया है.

इसे भी पढ़ें: सिर्फ 34 सत्रों में इस सेक्टर के 10 शेयरों ने लगाई 70% छलांग

अब फंड हाउसेज को हर स्कीम का पूरा कमीशन फुल ट्रेल फी मॉडल के तहत चुकाना होगा. पहले मिलने वाला फ्रंट लोडिंग कमीशन अब सिर्फ सिप योजनाओं के लिए ही उपलब्ध होगा. एकमुश्त निवेश के लिए यह कमीशन नहीं दिया जा सकता है.

सिप से निवेश के लिए 1 फीसदी के वार्षिक कमीशन का अग्रिम भुगतान फंड हाउसेज तीन वर्ष के लिए कर सकते हैं. यदि निवेशक इस पूरी अवधि के लिए निवेश बरकरार नहीं रखता है, तो वितरक से बचे कमीशन की राशि ले ली जाएगी. इसका भुगतान प्रो-राटा आधार (अनुपातिक) पर होगा.

डायरेक्ट प्लान पर लागू होने वाली सभी फीस और शुल्क नियमित प्लान के शुल्क से अधिक नहीं हो सकते हैं. वितरकों के लिए होने वाले ट्रेनिंग सत्र और कार्यक्रम जारी रहेंगे. सेबी ने कहा है कि इनका इस्तेमाल गैर-नकद पुरुस्कारों के लिए नहीं किया जाना चाहिए.

इसे भी पढ़ें: सेंसेक्स टुडे | शेयर बाजार का कमजोर आगाज, एशियन पेंट्स 6% टूटा

B30 शहरों (प्रमुख 30 शहरों) के बाहर बिक्री के लिए मिलने वाला अतिरिक्त कमीशन सिर्फ एकल निवेशकों के निवेश पर ही मिलेगा. यह राशि केवल ट्रेल आधार पर ही दी जाएगी. इसके अलावा फंड मैनेजर्स को भी हर निर्धारित अवधि के लिए रिटर्न का खुलासा वेबसाइट पर करना होगा.

उन्हें इसकी तुलना बेंचमार्क रिटर्न के साथ करनी होगी. यह अवधि एक वर्ष, तीन वर्ष, पांच वर्ष, 10 वर्ष और स्कीम की शुरुआत से होगी. डेट फंड्स की कुछ श्रेणियों के लिए 7 दिन, 15 दिन, 30 दिन, 3 महीने और 6 महीने का प्रदर्शन पेश करना अनिवार्य होगा.



हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

asset management companyनिवेशसेबीinvestmentcommissionmutual fundsवितरकोंsebiम्यूचुअल फंड्सएसेट मैनेजमेंट कंपनी

ETPrime stories of the day

How Evergrande could turn into China’s Lehman Brothers
Under the lens

How Evergrande could turn into China’s Lehman Brothers

16 mins read
Lead Kindle lite: Amazon Academy is off to school, but it isn’t eyeing the top rank just yet
Ed-tech

Lead Kindle lite: Amazon Academy is off to school, but it isn’t eyeing the top rank just yet

8 mins read
Giving value a pass, BAAP investors hunt for quality picks to add to their portfolios
Investing

Giving value a pass, BAAP investors hunt for quality picks to add to their portfolios

12 mins read

अपने नाती-पोतों के लिए कैसे करें निवेश?
लंबी अवधि के लिए किस म्यूचुअल फंड में निवेश करूं?
कोरोना महामारी के बीच प्रबंधन खुद के खर्चों में कमी लाये, कामकाज में मितव्ययिता जरूरी: भार्गव
झारखंड की रोजगार नीति उद्योगों के लिए अवरोधक नहीं, निवेशकों के समक्ष जबर्दस्त अवसर : सोरेन
बुनियादी ढांचा क्षेत्र के लिए छह लाख करोड़ रुपये की राष्ट्रीय मौद्रिकरण योजना की घोषणा
पॉवेल ने दिया संकेत, आखिरी तिमाही में अमेरिकी केंद्रीय बैंक नरम मौद्रिक नीति में लाएगा बदलाव
रुपया दो पैसे बढ़कर 74.22 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंचा
सेंसेक्स 226 अंक चढ़ा, निफ्टी 16,500 अंक के पास
सरकार ने ओडिशा के ढेंकनाल में 395 करोड़ रु के आम उपयोगकर्ता पेट्रोलियम प्रतिष्ठान की आधारशिला रखी
जानिए क्या है आर्बिट्राज कारोबार से मुनाफा कमाने का फंडा
कैसे बनाएं आदर्श म्यूचुअल फंड पोर्टफोलियो?
बाजार पहुंच बढ़ाने के मुद्दे पर अमेरिका के साथ काम करने पर विचार करेगा भारत: गोयल
स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit